Vatican News
सान डियेगो  के एक जहाज में आग लगाी सान डियेगो के एक जहाज में आग लगाी 

महामारी के दौरान नाविकों के काम को उजागर करता ‘समुद्र रविवार’

‘सागर रविवार’ इस वर्ष 12 जुलाई को कई ख्रीस्तीय गिरजाघरों में मनाया गया। यह दिन पूरे साल काम करने वाले नाविकों पर प्रकाश डालता है। यह लोगों को समुद्र और उनके परिवारों के लिए प्रार्थना करने का अवसर भी प्रदान करता है।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, सोमवार 13 जुलाई 2020 (वाटिकन न्यूज) : समुद्र में काम करने वालों का जीवन चुनौतियों से भरा रहता है। यह वर्ष उन नाविकों के लिए विशेष रूप से कठिन रहा है जिन्होंने कोविद-19 महामारी के बीच काम करना जारी रखा है।

सागर रविवार ‘नाविक जागरुकता सप्ताह’ का हिस्सा बनता है जो 6 जुलाई से शुरू हुआ था। ‘नाविक जागरुकता सप्ताह’ में हिस्सा लेने वालों में से एक ‘नाविकों का मिशन’ नामक ख्रीस्तीय उदार संगठन है।  इस एंग्लिकन संगठन की स्थापना 150 साल पहले की गई थी और यह सागर में काम करने वाले और यात्रा करने वाले जरूरतमंद लोगों को देखभाल और सहायता प्रदान करता है।

वाटिकन रेडियो से हुए साक्षात्कार में उदार संगठन के महासचिव  कैनन एंड्रयू राइट ने बताया कि समर्थन और करुणा के साथ समुद्र में उन तक पहुंचना "कभी भी कम महत्वपूर्ण नहीं था।"

महामारी और नाविक

महासचिव एंड्रयू ने बताया कि पिछले कुछ महीने निश्चित रूप से सबसे खराब रहे हैं और जाहिर तौर पर उनके सामने चुनौतियों की एक पूरी श्रृंखला है, विशेषकर आवागमन के मुद्दे पर। इस समय, कई श्रमिक जो अपने अनुबंधों (एग्रीमेंट) के अंत में आ चुके हैं, उन्हें समुद्र में अपने जहाजों पर तब तक रहना पड़ता है जब तक वे उतर नहीं सकते। उनके पास अपने अनुबंधों को नवीनीकृत करने का कोई विकल्प भी नहीं है।

एक अन्य मुद्दा, कैनन राइट ने बताया कि उनके जहाजों में एक निश्तिच संख्या तक ही यात्री प्रवेश कर सकते हैं और इसका मतलब जहाजों में चढ़ने के लिए तट पर प्रतीक्षा करने वालों को अनेक कठिनाईयों का सामना करना पड़ रहा है। उनके नौकरी छूटने की भी चिंता है।

महासचिव कहते हैं कि कई चालक दल ने अपनी नौकरियां खो दी हैं, खासकर समुद्र-पर्यटन सेक्टर में।

अंतर-कलीसियाई कार्य

यह सागर रविवार एक विशेष उद्देश्य से कई ख्रीस्तीय कलीसियाओं को एक साथ लाता है। कैनन राइट, जो ‘अंतर्राष्ट्रीय क्रिश्चियन मैरीटाइम एसोसिएशन’ के अध्यक्ष भी हैं, ने इस बात को जोर देते हुए कहा कि "समुद्री मिशन और कल्याण क्षेत्र में अंतर-कलीसियाई कार्य वास्तव में कई वर्षों से चल रहा है" । "हम स्टेला मारिस (सागर के प्रेरित) के साथ मिलकर काम करते हैं और यह महत्वपूर्ण है, यह वास्तव में समुद्री यात्रियों के लिए अच्छा है।"

"यह बहुत अच्छी बात है कि सागर रविवार हम एक साथ मनाते हैं। हाँ, हमारे मनाने की तरीका अलग-अलग हो सकता है। पर हमारे मनाने का उद्देश्य एक ही है।

आभार और समर्थन

इस महामारी के दौरान, नाविकों ने यह सुनिश्चित करने के लिए काम करना जारी रखा है कि हमारे सुपरमार्केट के अलमारियों को स्टॉक किया जाता रहे और लोगों को मेज पर भोजन मिलता रहे। लेकिन अक्सर, इस महत्वपूर्ण काम को भुला दिया जा सकता है, या इसे आसानी से ले लिया जाता है।

कैनन राइट ने कहा, "हम इसके लिए ‘समुद्री अंधापन 'शब्द का इस्तेमाल करते हैं क्योंकि दुनिया के कई देशों में लोग उन्हें भूल चुके हैं जहाँ समुद्री कार्यकर्ता उनके जीवन में महत्वपूर्ण सहयोग देते हैं।"

महामारी के दौरान जो चीजें हुई हैं, उनमें से एक यह है कि, “लोग पहली बार यह महसूस कर रहे हैं कि वे इन अविश्वसनीय पुरुषों और महिलाओं के ऋणी है और ये वीर पुरुष और महिलाएँ हैं।”

हाल ही में, संत पापा फ्राँसिस ने नाविकों को संदेश भेजा कि वे उन्हें बता रहे हैं, "वे अकेले नहीं हैं और उन्हें भुलाया नहीं गया है"। कैनन राइट कहते हैं कि इस कठिन समय में, उनकी ओर से समर्थन का संदेश बहुत मायने रखता है। जलयात्रा उद्योग ने खुद को इन पिछले महीनों में साझा किया है और इन नाविकों के लिए जीवन को जितना संभव हो सके उतना अच्छा बनाने की कोशिश की है; उदाहरण के लिए चालक दल को बदलने की अनुमति देने के लिए ... और चीजें धीरे-धीरे सुधर रही हैं, जो बहुत अच्छी खबर है।ʺ उन्होंने यह भी रेखांकित किया कि सरकारी अधिकारी और व्यापक दुनिया इन संदेशों को सुनें ताकि वे बदलाव ला सकें।

13 July 2020, 13:48