खोज

Vatican News
प्रतीकात्मक तस्वीर प्रतीकात्मक तस्वीर  (AFP or licensors)

आयरिश धर्माध्यक्षों ने मिस्सा फिर से शुरु करने का स्वागत किया

अर्माघ और डबलिन के महाधर्माध्यक्ष ने आयरिश सरकार द्वारा 29 जून से सार्वजनिक पूजा-अर्चना के लिए गिरजाघरों को फिर से खोलने की घोषणा का स्वागत किया।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

डबलिन, सोमवार 8 जून 2020 (वाटिकन न्यूज) :  मार्च में कोविद -19 महामारी के कारण सार्वजनिक पूजा स्थलों को बंद कर दिया गया था, लेकिन वायरस के संक्रमितों की संख्या कम होने के कारण, आयरिश प्रधान मंत्री लियो वराडकर ने शुक्रवार को घोषणा की कि गिरजाघरों में सोशल- डिस्टेंसिंग को ध्यान में रखते हुए फिर से खोला जा सकता है।

एक बयान में, अर्माघ के महाधर्माध्यक्ष एमोन मार्टिन ने इस खबर का स्वागत किया। "आयरलैंड के अन्य पुरोहितों की तरह, मैं भी हमारी मंडली के साथ जल्द ही पवित्र मिस्सा समारोह और अन्य संस्कारों का अनुष्ठान करने के लिए उत्सुक हूँ।"

धर्मप्रांतों और पल्लियों की प्रशंसा

महाधर्माध्यक्ष एमोन ने धर्मप्रांतों और पल्लियों के पुरोहितों द्वारा एक तरीके से सार्वजनिक पूजा करने के लिए विश्वासियों की सुरक्षित वापसी को सुविधाजनक बनाने के लिए की गई तैयारियों की सराहना की। उन्होंने लॉकडाउन के दौरान बहुत कठिन परिस्थितियों में विश्वासियों और पल्लीवासियों तक पहुंचने के लिए उनकी प्रशंसा की, जिसमें मीडिया संचार द्वारा पवित्र मिस्सा और अन्य प्रार्थनाओं के प्रसारण शामिल थे।

महाधर्माध्यक्ष ने उल्लेख किया कि कोविद-19 महामारी ने अनेक परिवारों में मातम फैला दिया है। इससे परिवार के अनेक सदस्य मारे गये। कई मामलों में परिवार के सदस्यों के लिए उनके पास होना, या उनके अंतिम संस्कार में उपस्थित होना भी संभव नहीं था। जैसा कि प्रतिबंधों में ढील दी गई है, पुरोहित पल्लीवासियों की सहायता करना जारी रखेंगे।"

तैयारियाँ चल रही हैं

इस बीच, गिरजाघरों में पूजन-विधियों को फिर से शुरू करने के बारे में बोलते हुए, डबलिन के महाधर्माध्यक्ष  एमोम मार्टिन ने कहा, "यह कई लोगों के लिए एक सांत्वना होगी और यह सुनिश्चित करने के लिए तैयारी तेज करना होगी कि गिरजाघर के अंदर की सभी धर्मविधियाँ सुरक्षित रूप से सम्पन्न की जा सके।"

अगले हफ्ते, आयरलैंड के धर्माध्यक्ष पहली बार गर्मी की आम सभा के लिए वीडियो-कॉल पर मिलेंगे। वे पवित्र मिस्सा और संस्कारों को सुरक्षित तौर पर सम्पन्न करने हेतु कुछ नियमों का अंतिम रूप देंगे।

08 June 2020, 10:45