खोज

Vatican News
गाजा शहर में कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के लिए सुरक्षा मास्क लगाये लोग गाजा शहर में कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के लिए सुरक्षा मास्क लगाये लोग 

कोरोना वायरस : गाजा के लोगों की मदद करती कारितास जेरूसालेम

"गाजा पृथ्वी पर सबसे घनी आबादी वाले स्थानों में से एक है। इस छोटी भूमि पर जहाँ करीब 2 मिलियन लोगों के घर हैं इस समय कोविड-19 के लगभग 55 मामले दर्ज किये गये हैं।" ये शब्द गाजा के कारितास जेरूसालेम के महानिदेशक अमीन सब्बागह के हैं जो अंतरराष्ट्रीय कारितास के वेबसाईट में प्रकाशित हैं।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

पवित्र भूमि, बृहस्पतार, 28 मई 2020 (रेई)- "गाजा पृथ्वी पर सबसे घनी आबादी वाले स्थानों में से एक है। इस छोटी भूमि पर जहाँ करीब 2 मिलियन लोगों के घर हैं इस समय कोविड-19 के लगभग 55 मामले दर्ज किये गये हैं।" ये शब्द गाजा के कारितास जेरूसालेम के महानिदेशक अमीन सब्बागह के हैं जो अंतरराष्ट्रीय कारितास के वेबसाईट में प्रकाशित हैं।

उन्होंने कहा है कि कोरोना वायरस महामारी के समय हमारी सबसे बड़ी चुनौती है अत्यंत सावधानी बरतते हुए कमजोर आबादी को स्वास्थ्य सेवा प्रदान करना। इस संकट  समय में हम 15 घंटों की बारी में काम कर रहे हैं और 2 मोबाईल मेडिकल टीम 15 जगहों एवं निकटवर्ती क्षेत्रों का दौरा कर रहे हैं। वास्तव में, गाजा में जेरूसलम स्वास्थ्य केंद्र का कारितास, संक्रमण से बचाव का एक "संदर्भ बिंदु" है।

इस केंद्र ने पिछले साल से विशेषज्ञों को नियुक्त किया है जिसमें हृदय रोग विशेषज्ञ, एक इंटर्निस्ट, एक बाल रोग विशेषज्ञ, एक त्वचा विशेषज्ञ, एक स्त्री रोग विशेषज्ञ और एक अल्ट्रासाउंड विशेषज्ञ नियुक्त हैं। अमीन ने कहा, "एक दिन में हम औसत 300 रोगियों का स्वागत करते हैं और सभी वायरस के फैलने के खतरे के प्रति सचेत हैं।"

हम हर प्रकार के उपाय अपना रहे हैं और इसकी कल्पना भी नहीं करना चाहते कि कोविड-19 पूरे गाजा में फैले, जहाँ 2 मिलियन लोग अत्यन्त घनी आबादी के साथ जीते हैं। सौ में से 80 लोगों का जीवन मानवीय सहायता पर निर्भर है और 90 प्रतिशत परिवारों को पेयजल की सुविधा भी नहीं है। स्थानीय कारितास अपनी ओर से स्वास्थ्य एवं भोजन शिक्षा परियोजनाओं को पूरा करने की कोशिश करती है उदाहरण के लिए, शरणार्थी शिविरों में कुपोषित बच्चों का पालन-पोषण करना और तीन स्कूलों के लिए दंत चिकित्सा की पहल, छात्रों को मुफ्त में डॉक्टरों से मुलाकात करना तथा स्वच्छता का ज्ञान प्रदान करना।

सब्बागह ने गाजा के लिए प्रार्थना का आग्रह किया है जिससे कि गाजा एवं विश्व के सभी गरीब एवं घनी आबादी वाले स्थान महामारी से बच सकें तथा महामारी के बाद संघर्ष का अंत हो जाए।

28 May 2020, 16:58