Vatican News
कोलंबो के महाधर्माध्यक्ष, कार्डिनल माल्कम रंजीत कोलंबो के महाधर्माध्यक्ष, कार्डिनल माल्कम रंजीत  

ईस्टर हमले पीड़ितों की याद में प्रार्थना का आमंत्रण, कार्ड.रंजीत

श्रीलंका में गतवर्ष ईस्टर के दिन हुए हमले के पीड़ितों की याद में कार्डिनल रंजीथ ने देश वासियों को दो मिनट का मौन पालन करने और घंटी बजाने के लिए आमंत्रित किया।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

कोलंबो, शनिवार 18 अप्रैल, 2020 (वाटिकन न्यूज) : श्रीलंका में पिछले साल ईस्टर रविवार को इस्लामिक आतंकवादी हमलों के पीड़ितों को याद करने के लिए 21 अप्रैल, सुबह 8.40 बजे दो मिनट का मौन और सभी पूजा स्थलों की घंटियाँ बजायी जाएँगी। उकान न्यूज़ की रिपोर्ट के अनुसार, 16 अप्रैल को कोलंबो के महाधर्माध्यक्ष, कार्डिनल माल्कम रंजीत ने राजधानी में एक प्रेस ब्रीफिंग के दौरान लोगों से यह अनुरोध किया है।

मृतकों को श्रद्धांजली

कार्डिनल रंजीत ने कहा, "21 अप्रैल को पीड़ितों की याद में सुबह 8.45 बजे दो मिनट का मौन बनाए रखें, 8.47 बजे अपने घर पर एक दीपक या मोमबत्ती जलाएं और धार्मिक संस्कारों का पालन करें।"

इस साल देश में कोविद -19 महामारी के प्रसार से बचने के लिए, ईस्टर के हमले के स्मरणोत्सव हेतु निर्धारित सभी सामूहिक कार्यक्रम आयोजित नहीं किए जाएंगे, हालांकि, लोग टेलीविजन प्रसारण के माध्यम से जनता की भागीदारी के बिना आयोजित की गई पहलों को देख पायेंगे। श्रीलंका में 17 अप्रैल को 238 कोरोना वायरस मामले दर्ज किये गये और सात की मौत हुई है।

21 अप्रैल, 2019 का हमला

पिछले साल के 21 अप्रैल, ईस्टर रविवार को नेशनल तौहीद जमात से जुड़े नौ आत्मघाती हमलावरों ने तीन गिरजाघरों - दो काथलिक और एक इवेंजेलिकल - और तीन लक्जरी होटल पर हमला किया था। जिसमें  कम से कम 279 लोग मारे गये थे और कम से कम 500 घायल हो गये थे। पिछले साल ईस्टर रविवार को 8.45 और 9.30 के बीच विस्फोट हुए थे।

नेग्बो के संत सेवास्टियन गिरजाघर और कोलंबो में संत अंतोनी तीर्थालय को सार्वजनिक रूप से शुद्धिकरण के बाद भक्तों के लिए फिर से खोल दिया गया है, लेकिन बाटियोआ में सियोन गिरजाघर का मरम्मत का काम अभी भी चल रहा है।

18 April 2020, 15:28