खोज

Vatican News
तूरीन के महागिरजाघर में पवित्र कफन तूरीन के महागिरजाघर में पवित्र कफन 

पुण्य शनिवार को तूरीन के कफन के साथ प्रार्थना

तूरिन का महागिरजाघर टेलीविजन एवं सामाजिक संचार माध्यमों द्वारा पुण्य शनिवार को येसु के पवित्र कफन वस्त्र की तस्वीर प्रस्तुत करेगा।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

इटली, मंगलावार, 7 अप्रैल 20 (वीएन)- पुण्य शनिवार 11 अप्रैल को तूरीन महागिरजाघर में पवित्र कफन की विशेष आराधना होगी जिसे इताली टेलीविजन में लाईव और अन्य संचार माध्यमों द्वारा प्रसारित किया जाएगा।

पुण्य शनिवार को संध्या 5.00 बजे (भारत में 8.30) से तूरिन के महाधर्माध्यक्ष गिरजाघर में एक प्रार्थना की धर्मविधि का अनुष्ठान करेंगे और उस दौरान चिंतन के समय पवित्र कफन की तस्वीर पूरे विश्व के सामने प्रस्तुत की जायेगी। महाधर्माध्यक्ष ने कहा कि यह इसलिए किया जा रहा है ताकि कोरोना वायरस महामारी के समय में विश्वासियों को मदद दी जा सके तथा बुराई पर विजय पाने के लिए ख्रीस्त से कृपा की याचना की जा सके जैसा कि उन्होंने क्रूस पर किया।

महाधर्माध्यक्ष नोसिल्या ने कहा, “प्रेम अधिक शक्तिशाली है। यह पास्का घोषणा है जिसको पवित्र कफन हमारे लिए लाता है ताकि हम उसे पुनः महसूस कर सकें और यह हमारे हृदय को विश्वास एवं कृतज्ञता से भर दे।”

उन्होंने कहा, “प्रेम जिसके द्वारा उन्होंने अपना जीवन अर्पित किया जिसको हम पुण्य सप्ताह में याद करते हैं वह हर प्रकार की पीड़ा, बीमारी, संक्रमण, चुनौती और निराशा से बढ़कर है। कोई भी वस्तु अथवा व्यक्ति हमें उनके प्रेम से अलग नहीं कर सकता क्योंकि वे हमेशा निष्ठावान हैं और हमें एक अटूट एकता में बांधे रखते हैं।” प्रार्थना के अंत में साक्ष्य भी प्रस्तुत किये जायेंगे।

तूरीन का कफन या पवित्र कफन, कपड़े का एक बड़ा चादर है। दावा किया जाता है कि इसमें येसु ख्रीस्त के शव को लपेटा गया था। इसे सन् 1578 से ही इटली स्थित तूरीन के संत जोवन्नी बत्तिस्ता महागिरजाघर में सुरक्षित रखा गया है।

07 April 2020, 16:41