खोज

Vatican News
अमाजोन अमाजोन 

पोलैंड की कलीसिया द्वारा पोप को केरिदा अमाजोनिया के लिए आभार

पोलैंड के काथलिक धर्माध्यक्षीय सम्मेलन के अध्यक्ष महाधर्माध्यक्ष स्तानिसलाव गादेस्की ने संत पापा के प्रेरितिक प्रबोधन "केरिदा अमाजोनिया" प्रकाशित किये जाने पर उन्हें धन्यवाद दिया।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

पोलैंड, बुधवार, 19 फरवरी 2020 (रेई)˸ "मैं संत पापा को उनके इस आवश्यक, महत्वपूर्ण एवं संवेदनशील आवाज के लिए धन्यवाद देता हूँ जो "गरीबों, आदिवासियों एवं कमजोर भाई-बहनों के अधिकारों के लिए कलीसिया की ऊँची आवाज बन गयी है, ताकि उनकी आवाज सुनी जा सके और उनकी प्रतिष्ठा बढ़े।" यह बात पोलैंड के काथलिक धर्माध्यक्षीय सम्मेलन के अध्यक्ष महाधर्माध्यक्ष स्तानिसलाव गादेस्की ने संत पापा के प्रेरितिक प्रबोधन "केरिदा अमाजोनिया" प्रकाशित किये जाने पर उन्हें धन्यवाद देते हुए पत्र में लिखी।

संत पापा फ्राँसिस को प्रेषित पत्र में उन्होंने लिखा, "पोलैंड की कलीसिया एवं विश्वासियों की ओर से, आपको मैं पूरी ईमानदारी के साथ, प्रेरितिक प्रबोधन "केरिदा अमाजोनिया" के लिए धन्यवाद देता हूँ जो आपके हृदय में वार्ता एवं आत्मपरख द्वारा, अमाजोन पर विगत धर्माध्यक्षीय धर्मसभा के दौरान उत्पन्न हुआ।"   

उन्होंने कहा, "मेरी कृतज्ञता तब बढ़ जाती है जब मैं संत पापा में एक पिता, अपने बच्चों के लिए एक माँ (कलीसिया) की आवाज के रूप में स्नेह और चिंता को महसूस करता हूँ, सभी द्वीपों में विखरे लोगों के लिए, चाहे वे सुदूर क्षेत्रों में क्यों न हों जिन्हें बहुधा न केवल भुला दिया और अनदेखा कर दिया जाता बल्कि उनका शोषण और विनाश भी किया जाता है।"

अपने पत्र में महाधर्माध्यक्ष ने यह भी लिखा कि संत पापा के शब्दों के अनुसार यह प्रेरितिक प्रबोधन अमाजोन क्षेत्र के लिए एक आवाज है ताकि वह अपनी विशिष्ट संस्कृति को सुरक्षित रख सके जहाँ हमारे मानव परिवार की सुन्दरता भिन्न-भिन्न रुपो में प्रकट होती है जो नदियों और जंगलों में प्राकृतिक सुन्दरता से भरपूर जीवन को सुरक्षित रखती है।      

उन्होंने जोर दिया कि यह प्रबोधन, अमाजोन क्षेत्र में रहने वाले हमारे भाई-बहनों के लिए पूरी कलीसिया की याद और चिंता को प्रकट करता है क्योंकि यह गैर-जिम्मेदार अर्थव्यवस्था द्वारा नष्ट किये जा रहे लाखों लोगों एवं प्रकृति का घर है।  

पोलैंड के काथलिक धर्माध्यक्षीय सम्मेलन के अध्यक्ष ने संत पापा को अपनी प्रार्थनाओं का आश्वासन देते हुए लिखा है कि "पोलैंड की समस्त कलीसिया के साथ, येसु ख्रीस्त की माता निष्कलंक कुँवारी मरियम की मध्यस्थता द्वारा जिनको उन्होंने क्रूस पर से पूरी दुनिया के लिए प्रदान किया है, अमाजोन के लोगों के साथ, हम प्रार्थना करते हैं कि संत पापा का स्वप्न, ईश्वर की कृपा और सभी लोगों के समर्पण से, भले लोगों को प्रेरित करे ताकि वे अमाजोन एवं इसके निवासियों की अधिक देखभाल कर सकें।"

 

19 February 2020, 16:55