खोज

Vatican News
पपुआ न्यू गिनी के ख्रीस्तियों के साथ कार्डिनल पारोलिन पपुआ न्यू गिनी के ख्रीस्तियों के साथ कार्डिनल पारोलिन  

पपुआ न्यू गिनी की कलीसिया सामाजिक बुराइयों के खिलाफ

पापुआ न्यू गिनी (पीएनजी) में काथलिक कलीसिया ने देश में अवैध गतिविधियों, वेश्यावृत्ति, ड्रग और काले धन को वैध बनाने की निंदा करते हुए कहा है कि देश में सामाजिक बुराइयाँ बढ़ रही हैं और मानव तस्करी नाटकीय रूप से "सामान्य" प्रतीत होता है।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

पपुआ न्यू गिनी, बुधवार 29 जनवरी 2020 (वाटिकन न्यूज) : पापुआ न्यू गिनी और सोलोमोन द्वीप के काथलिक धर्माध्यक्षीय सम्मेलन के "न्याय और शांति" आयोग और पीएनजी कारितास ने वाटिकन के फीदेस समाचार एजेंसी को देश की सामाजिक समस्याओं के बारे अपनी चिंता व्यक्त की।

उन्होंने कहा कि स्थानीय कलीसिया इन अपराधों से लड़ने में पुलिस बलों का सहयोग देना चाहती है। समस्याओं और उनके कारणों को समझने तथा इस कृत्य में संलग्न लोगों की पहचान करने के लिए एक बहु-विषयक दृष्टिकोण के माध्यम से घटनाओं की जांच करना आवश्यक है।

कारितास के अनुसार, पापुआ न्यू गिनी में मानव तस्करी एक बहुत ही जटिल समस्या है। मानव तस्करी विभिन्न रुपों में और विभिन्न परिस्थितियों में की जाती है।

दो व्यावहारिक समाधान

फीदेस को भेजे गए पीएनजी कारितास के एक टिप्पणी में दो व्यावहारिक समाधान सुझाए गए हैं। पहलाः यह तस्करों और विभिन्न स्तरों पर उनसे लाभ पाने वालों के खिलाफ त्वरित न्यायिक कार्यवाही करना। दूसराः सरकारी नेटवर्क, व्यवसायों, धार्मिक समुदायों और नागरिक समाज के बीच सहयोग के माध्यम से, मानव तस्करी और राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर, दोनों देशों में मानव तस्करी और पीड़ितों की रक्षा पर अधिक सहयोग और जागरूकता का आह्वान करना।

ह्यूमन राइट्स वॉच (एचआरडब्ल्यू) ने हिंसा, घरेलू शोषण, भ्रष्टाचार और विदेशी ऋण के बारे में पहले ही रिपोर्ट की थी लेकिन 2019 में पपुआ न्यू गिनी में कोई सुधार नहीं हुआ है। ह्यूमन राइट्स वॉच इसकी वार्षिक रिपोर्ट में कहा गया है कि कानून के कमजोर प्रवर्तन और जवाबदेही की कमी ने असुरक्षा और अधर्म की संस्कृति को बढ़ावा दिया।

एशिया के लिए ह्यूमन राइट्स वॉच के डिप्टी डायरेक्टर, फिल रॉबर्टसन ने कहा, “प्रधानमंत्री के बदलाव के बावजूद, प्रगति अभी भी धीमी है। हम एक बहुत ही गरीब देश के बारे में बात कर रहे हैं जहाँ बहुत हिंसा होती है, पर अपराधी दंड से मुक्त हैं ... जहाँ महिलाएँ विशेष रूप से प्रभावित होती हैं, साथ ही साथ बच्चे भी।"

"पीएनजी संसाधनों में बहुत समृद्ध है, परंतु चालीस प्रतिशत आबादी अभी भी गरीबी में रहती है", "पच्चीस प्रतिशत बच्चे स्कूल नहीं जाते हैं और 13 में से एक व्यक्ति की रोकथाम योग्य बीमारी से मृत्यु हो जाती है।"

29 January 2020, 16:24