खोज

Vatican News
ग्वादालूपे की मरियम के महापर्व पर,  12.12.2019 ग्वादालूपे की मरियम के महापर्व पर, 12.12.2019  (Vatican Media)

मरियम महिला, माँ और सन्देशवाहिका

वाटिकन स्थित सन्त पेत्रुस महागिरजाघर में गुरुवार को ग्वादालूपे की माँ मरियम के महापर्व के उपलक्ष्य में ख्रीस्तयाग अर्पित कर सन्त पापा फ्राँसिस ने मरियम को महिला, माँ एवं सन्देशवाहक की संज्ञाओं से विभूषित किया।

जूलयट जेनेवीव क्रिस्टफर- वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, शुक्रवार, 13 दिसम्बर 2019 (रेई, वाटिकन रेडियो): वाटिकन स्थित सन्त पेत्रुस महागिरजाघर में गुरुवार को ग्वादालूपे की माँ मरियम के महापर्व के उपलक्ष्य में ख्रीस्तयाग अर्पित कर सन्त पापा फ्राँसिस ने मरियम को महिला, माँ एवं सन्देशवाहक की संज्ञाओं से विभूषित किया।

उन्होंने कहा कि मरियम महिला और माँ होने के साथ-साथ सन्देशवाहक हैं और ये तीन विशेषण उनका सार हैं। रोम के लातीनी अमरीकी समुदाय के सदस्यों ने सन्त पापा के साथ ग्वादालूपे की मरियम के आदर में अर्पित ख्रीस्तयाग समारोह में भाग लिया।  

मरियम का सार

सन्त पापा ने कहा, "ग्वादालूपे की मरियम के महापर्व के लिये निर्धारित धर्मविधि मरियम के लिये तीन विशेषणों का सुझाव रखती है और ये तीन विशेषण अर्थात् माँ, महिला और सन्देशवाहक मरियम के जीवन का सार है।"  

मरियम महिला

उन्होंने कहा,  "मरियम सर्वोत्कृष्ट महिला हैं, विशेष रूप से, इसलिये कि वे अपने पुत्र की शिष्या हैं तथा उनके सन्देश की वाहिका हैं।" उन्होंने कहा, "यह एक सीधी सी बात है", हालांकि सदियों के अन्तराल में ख्रीस्तानुयायियों ने कई प्रेमपूर्ण उपाधियों से मरियम की वन्दना की है तथापि, मरियम का वर्णन करने के लिये इनसे उपयुक्त शीर्षक और नहीं हो सकते। मरियम विनम्र हैं, मरियम अपने गुरु, पुत्र तथा एकमात्र मुक्तिदाता येसु के प्रति सत्यनिष्ठ हैं।"   

मरियम माँ

सन्त पापा ने कहा कि मरियम ने अपने पुत्र से कुछ नहीं लिया क्योंकि वे उनकी माँ हैं और इस प्रकार वे अपने लोगों और उनके हृदयों की माँ हैं। मरियम केवल कलीसिया की माँ ही नहीं अपितु वे कलीसिया की छवि भी हैं। अस्तु, जो कुछ मरियम के लिये कहा जा सकता है वह सब कलीसिया पर भी लागू होता है जिसकी प्रकृति स्त्रीलिंग है। उन्होंने कहा कि इन्हीं अर्थों में हम कलीसिया को माता कलीसिया कहकर पुकारते हैं।    

13 December 2019, 11:52