Cerca

Vatican News
सिनॉड के दौरान युवाओं को संदेश देते संत पापा सिनॉड के दौरान युवाओं को संदेश देते संत पापा  (AFP or licensors)

वाटिकन में अंतरराष्ट्रीय युवा मंच के लिए भारतीय प्रतिनिधिमंडल

भारत के तीन युवा काथलिक प्रतिनिधि, अंतरराष्ट्रीय युवा मंच की सभा में भाग लेने 17 जून को रोम रवाना हुए।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

नई दिल्ली, मंगलवार, 18 जून 2019 (मैटर्स इंडिया)˸ वे विश्वभर से अंतरराष्ट्रीय युवा मंच के 250 युवाओं की सभा में भाग लेंगे। यह सभा 2018 में युवा पर आयोजित सिनॉड के कार्यान्वयन का मूल्यांकन करेगी। सभा का आयोजन लोकधर्मी, परिवार एवं जीवन संबंधी परमधर्मपीठीय समिति द्वारा रोम में किया है।

अंतरराष्ट्रीय युवा फोरम की सभा में भाग लेने वाले भारतीय युवा हैं, मैंगलोर से जेस्विता प्रिंसी क्वाद्रास (युवा ख्रीस्तीय विद्यार्थियों की पूर्व अध्यक्षा), जोवाई से बेकारेमेयो नोंगतदू (उतरी पूर्व प्रांत के युवा अध्यक्ष) एवं दिल्ली से पेरसिवाल हाल्ट (सीसीबीआई के निर्देशन में भारतीय काथलिक युवा आयोग के राष्ट्रीय अध्यक्ष तथा सिनॉड के ऑडिटर)।

19 से 22 जून तक आयोजित इस सभा में युवा पर आयोजित सिनॉड के कार्यान्वयन पर मूल्यांकन किया जाएगा एवं यह जानने का प्रयास किया जाएगा कि विगत छः महिनों में देश में क्या बदलाव आया है।

पेरसिवाल हाल्ट ने कहा, "भारत से तीन व्यक्ति भाग लेने जा रहे हैं और उनमें से एक मैं हूँ।"

25 वर्षीय हाल्ट जिन्होंने बायोटेक्नोलोजी में मास्टर की डिग्री प्राप्त की है वे उन पाँच युवाओं में से एक हैं जिन्होंने रोम के वाटिकन में विगत अक्टूबर माह में आयोजित सिनॉड में भाग लिया था।

सभा का महत्व बतलाते हुए हाल्ट ने कहा, "यह देखना महत्वपूर्ण है कि प्रयासों, धन और समय की मात्रा को ध्यान में रखते हुए, इस महत्वपूर्ण सिनॉड को विश्वभर के काथलिक धर्माध्यक्षीय सम्मेलनों और अंतरराष्ट्रीय लोकधर्मी संगठनों ने कितनी गंभीरता से लिया है।  

संत पापा का हवाला देते हुए हाल्ट ने कहा कि "सिनॉड प्रक्रिया की चरमबिन्दु नहीं है बल्कि एक प्रमुख मध्यवर्ती प्रयास है। यह जारी रहेगा, इसका प्रसार करना होगा और धरातल तक पहुंचना होगा ताकि कलीसिया के भावी चेहरे को पोषित किया जा सके।"

भारत के तीन युवा काथलिक प्रतिनिधि वाटिकन के लिए रवाना
भारत के तीन युवा काथलिक प्रतिनिधि वाटिकन के लिए रवाना
18 June 2019, 16:46