खोज

Vatican News
मेक्सिको के ख्रीस्तीय प्रार्थना करते हुए मेक्सिको के ख्रीस्तीय प्रार्थना करते हुए  (ANSA)

मेक्सिकन गिरजाघर में धर्म-शिक्षक की हत्या से धर्माध्यक्ष शोकित

दक्षिणी मेक्सिको के एक काथलिक गिरजाघर में एक धर्म-शिक्षक को गोली मार दी गई है, स्थानीय धर्माध्यक्ष ने सामाजिक और नैतिक पतन के परिणामस्वरूप उसकी मृत्यु पर संवेदना व्यक्त की।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

अकाओयागुआ, मेक्सिको, बुधवार 18 जून 2019 (वाटिकन न्यूज) :  दो युवा बंदूकधारियों ने  मरियम के निष्कलंक गर्भाधान गिरजाघर में प्रवेश किया, जहाँ नए धर्म-शिक्षकों को प्रशिक्षण दी जा रही थी। उन्होंने अंधाधूंध गोली चलाना शुरु किया, इसी दौरान एक गोली सुश्री मारगेली लैंग अंतोनियो को लगी। उसने घटना स्थल पर ही दम तोड़ दिया। यह हमला शनिवार को मेक्सिको के दक्षिणी चियापास राज्य के अकाओयागुआ शहर में हुआ।

सामाजिक पतन

तपचुला धर्मप्रांत के स्थानीय धर्माध्यक्ष जेम काल्डेरोन ने महिला के परिवार के प्रति अपनी निकटता व्यक्त की और अधिकारियों से घटना की जांच करने का आह्वान किया।

उन्होंने फीदेस न्यूज़ एजेंसी को बताया कि हिंसा "सामाजिक और नैतिक पतन" को प्रदर्शित करती है। रविवार को एक संवाददाता सम्मेलन में, धर्माध्यक्ष काल्डेरोन ने स्थानीय समुदायों का असुरक्षा के लिए इस तरह के सामाजिक पतन को जिम्मेदार ठहराया।

उन्होंने कहा, "जब कोई काम या कोई रोजगार नहीं है, बड़े पैमाने पर अन्याय, दंड से मुक्ति, अत्यधिक लालच और मानव जीवन पर एक कीमत डाल दी जाती है तथा सब कुछ पैसे के आस-पास घूमता है तो ऐसा ही परिणाम देखने को मिलता है। पैसे से कुछ भी खरीदा जा सकता है।"

समुदायों को अस्थिर करना

काथलिक मल्टीमीडिया केंद्र के अनुसार, मेक्सिको में काथलिक कलीसिया के खिलाफ और विशेष रूप से पुरोहितों के खिलाफ हिंसा, "सामाज में अस्थिरता" लाने के उद्देश्य से की जाती है।

केंद्र के निदेशक, फादर ओमार मोटेलो एगुइलर, एसएसपी, का कहना है कि कलीसिया संगठित अपराध का कड़ा विरोध करती और लोगों के अधिकारों के लिए खड़ी होती है। एक पुरोहित को मारना या किसी कलीसिया को आतंकित करना, समुदाय को अस्थिर करना है और मौन की संस्कृति को बढ़ावा देना है जो दंड से मुक्त, भ्रष्टाचार को फलने-फूलने की अनुमति देता है।

सुरक्षा संकट

पिछले कुछ सप्ताहों में अलग-अलग हिंसक परिस्थितियों में दो काथलिक छात्र मारे गए। ह्यूगो लियोनार्डो अवनेंदो चावेज़ और नॉर्बर्टो रोंक्विलो का अपहरण कर लिया गया, उन्हें प्रताड़ित किया गया और उनकी गला दबाकर हत्या कर दी गई।

मेक्सिको के धर्माध्यक्षों ने खुलेआम सरकार से गुहार लगाई है कि वे देश पर मंडरा रहे सुरक्षा संकट की जड़ तक पहुंचे और देश वासियों को सुरक्षा प्रदान करें।

19 June 2019, 12:52