Cerca

Vatican News
सियोन गिरजाघर में बम विस्फोट सियोन गिरजाघर में बम विस्फोट  (AFP or licensors)

श्रीलंका कलीसिया ने बम विस्फोट के पीड़ितों के लिए प्रार्थना की

कोलम्बो में तीन गिरजाघरों और तीन भव्य होटलों में छः बम रखे गए थे। बटियालियो में सियोन गिरजाघर, कोच्चीकेड में संत अंतोनी गिरजाघर और नेगोंबो में संत सेबेस्टियन गिरजाघर हैं। कार्डिनल मालकम रंजीत ने डॉक्टरों को अस्पताल में सेवा के लिए और रक्त दान करने का आह्वान किया।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

 कोलम्बो, रविवार 21 अप्रैल 2019 ( वाटिकन न्यूज) : पास्का रविवार को गिरजाघरों में हुए बम विस्फोट से कम से कम 101 लोगों की मृत्यु हुई और 450 से अधिक घायल हो गए।  छः बम आज सुबह श्रीलंका के तीन गिरजाघरों और होटलों में फट गया। बटियालियो में सियोन गिरजाघर में 27 की मौत, कोच्चीकेड में संत अंतोनी गिरजाघर में 160 लोग घायल और नेगोंबो में संत सेबेस्टियन गिरजाघर में 50 लोग मारे गये हैं, जहां ख्रीस्तीय पास्का पर्व मनाने के लिए एकत्र हुए थे। नरसंहार की खबर पर, कोलम्बो के महाधर्माध्यक्ष कार्डिनल मालकम रंजीत ने "पीड़ितों के प्रति अपनी संवेदना" व्यक्त की और देश के लिए प्रार्थना करने हेतु आमंत्रित किया गया।

एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कार्डिनल रंजीत ने कहा कि इस दिन द्वीप का पूरा काथलिक समुदाय पीड़ितों के लिए शोक मनाता है। उन्होंने सभी नागरिकों को घायलों को बचाने के लिए खून देने का आग्रह किया साथ ही छुट्टी के दिन डॉक्टरों से घायलों की सेवा हेतु अपने काम पर लौटने और "कम से कम एक जीवन बचाने" के लिए आमंत्रित किया।

श्रीलंका के राष्ट्रपति मथरीपाला सिरिसेना ने हमलों की निंदा की है और नागरिकों से पुलिस को जांच में सहयोग करने का आग्रह किया हैं। राजधानी में प्रभावित होटल किंग्सबरी, शांगरी-ला और दालचीनी के भव्य होटल हैं, जो हमेशा पर्यटकों से भरे रहते हैं। अभी तक किसी समूह ने इस कारनामे का दावा नहीं किया है।

21 April 2019, 13:01