Cerca

Vatican News
मोमबत्ती और बाईबल मोमबत्ती और बाईबल 

इंग्लैण्ड और वेल्श हेतु 2020 “ईशवचन का वर्ष”

इंग्लैण्ड और वेल्श आगामी वर्ष 2020 को ईशवचन का वर्ष घोषित करेंगे।

दिलीप संजय एक्का-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, गुरूवार, 04 अप्रैल 2019 (रेई)  इंग्लैण्ड और वेल्श आने वाला वर्ष 2020 को वेरभुम दोमिनी और संत जेरोम की सालगिराह मनाते हुए इसे धर्मग्रंथ बाईबिल के नाम समर्पित करेंगे जिसके माध्यम “ईश्वर हमसे बातें” करते हैं।

इसकी पहल फरवरी 2019 में ही जा चुकी है जिसे “ईश्वर हमसे बातें करते हैं” की संज्ञा दी गई है जिसका संचालन बिटिश बाईबल सोसाईटी के सहयोग  से किया जायेगा। पूरे साल 2020 को अर्थपूर्ण ढ़ग से माने हेतु विभिन्न तरह के कार्यक्रमों की रुपरेखा तैयारी की जा रही है।

दो महान सालगिराह

आने वाला साल दो बड़े महत्वपूर्ण सालगिराह का साक्ष्य प्रस्तुत करेगा जहाँ हम धर्मग्रंथ के प्रभाव को कलीसिया में देख पायेंगे। वर्ष 2020 संत पापा बेनेदिक्त 16वें द्वारा दिये गये प्रेरितिक उदबोधन वेरभुम दोमिनी की 10वीं सालगिराह मनायेंगी। यह वर्ष संत जेरोम की 1600वीं वर्षगाँठ है जिन्होंने लैटिन भलगेट का अनुवाद किया।

30 सितम्बर 2019 को संत जेरोम के पर्व दिवस के अवसर पर धर्माध्यगण वार्षिक सालगिराह की आधिकारिक घोषणा करेंगे जबकि 01 दिसम्बर आगमन के प्रथम रविवार को इस वर्ष का प्रचार कार्य शुरू किया जायेगा।

ईशवचन का समारोह, उसे जीना औऱ साझा करना

वर्ष 2020 को अर्थपूर्ण ढ़ंग से व्यतीत करने के क्रम में इंग्लैण्ड और वेल्श के धर्माध्यक्षों ने ख्रीस्तियों से आग्रह किया है कि वे अपनी ओर से इस बात की जनगनणा करें कि धर्मग्रंथ उन्हें रोज दिन के जीवन में किस तरह से प्रभावित करता है।

कार्यक्रमों की पूर्ण सूची अभी आनी बाकी है लेकिन धर्माध्यक्षों ने इस बात पर जोर दिया है कि सालगिराह का केन्द्र-बिन्दु वचन को समारोही ढ़ग से मनाना, उसे अपने जीवन में जीना और दूसरों के साथ बांटने पर आधारित रहेगा।

पल्लियों से आग्रह किया गया है कि वे इस बात पर चिंतन करें कि वे ईशवचन को कैसे मनाते, जीते और दूसरों के साथ साझा करते हैं, उनसे इस बात हेत सुझाव मांग गया है कि इसमें कहाँ सुधार लाने की जरुरत है जिससे यह “जीवन में हृदयों और समुदायों को परिवर्तन लाने हेतु मदद करे।”

04 April 2019, 16:02