Cerca

Vatican News
प्रतीकात्मक तस्वीर प्रतीकात्मक तस्वीर  (AFP or licensors)

पल्ली वासियों के हमले के बाद धर्माध्यक्ष अस्पताल में भर्ती

दो पल्लियों के बीच भूमि विवाद में काथलिकों के एक समूह द्वारा धर्माध्यक्ष जेरोम धास वरुवेल और एक सुरक्षा गार्ड पर हमला किया गया।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

चेन्नई, बुधवार, 13 मार्च, 2019 (मैटर्स इंडिया) : तमिलनाडु में भूमि विवाद को लेकर काथलिकों के एक समूह द्वारा उनके धर्माध्यक्ष पर हमला किया गया। उसके बाद धर्माध्यक्ष को अस्पताल में भर्ती कराया गया।

11 मार्च के तमिल अखबार डेली थांती के अनुसार,कन्याकुमारी जिले के मार्तंडम में पुलिस ने कुजिथुरई के धर्माध्यक्ष जेरोम धास वरुवेल और एक सुरक्षा गार्ड पर हमला करने के लिए 58 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है।  

यह हमला केरल राज्य की राजधानी तिरुवनंतपुरम से लगभग 45 किलोमीटर दक्षिण-पूर्व में मार्तंडम के पास उन्नामलाइकादई में धर्माध्यक्ष के निवास पर पिछले दिन हुआ था।

भूमि विवाद

कुझीथुराई पल्ली को 22 दिसंबर 2014 में दो पल्ली बनाई गई। कथित तौर पर यह घटना इन्हीं दो पल्लियों के बीच भूमि विवाद का नतीजा था।

समाचार पत्र के रिपोर्ट अनुसार, धर्मप्रांत ने इस मुद्दे को सुलझाने के लिए कई बार कोशिश की, लेकिन यह सफल नहीं हो सका। 8 मार्च को, संत अंतोनी पल्ली के कुछ काथलिक धर्माध्यक्ष निवास गये और कथित तौर पर वहां कुछ पुरोहितों को धमकी दी।

दो दिन बाद, संत जोसेफ पल्ली के कुछ काथलिक दोपहर में धर्माध्यक्ष निवास के बरामदे में एकत्र हुए थे तभी धर्माध्यक्ष वरुवेल एक कार से वहां पहुंचे।

67 वर्षीय सलेशियन धर्माध्यक्ष के कार से बाहर आने के बाद भीड़ ने उन्हें घेर लिया और भूमि विवाद के तत्काल समाधान की मांग की। उनके बीच बातें चल ही रही थी कि भीड़ से कुछ लोगों ने अचानक धर्माध्यक्ष पर हमला करना शुरू कर दिया और उसके कैसक को खींच लिया। धर्माध्यक्ष को बचाने की कोशिश में सुरक्षा गार्ड पर रॉड से हमला किया गया।

पुलिस के घटनास्थल पर पहुंचते ही हमलावर भाग गये। धर्माध्यक्ष वरुवेल और गार्ड मनोहरन को मार्तंडम के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस ने सुरक्षा गार्ड की शिकायत पर कुछ महिलाओं सहित 58 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया।

13 March 2019, 16:00