Cerca

Vatican News
संत पापा फ्राँसिस संत पापा फ्राँसिस  (ANSA)

संत पापा की अरब अमीरात यात्रा संवाद का अवसर, धर्माध्यक्ष हिंदर

दक्षिणी अरब के प्रेरितिक विकर, धर्माध्यक्ष पॉल हिंदर, अगले फरवरी में संयुक्त अरब अमीरात में संत पापा फ्राँसिस की ऐतिहासिक प्रेरितिक यात्रा की घोषणा पर टिप्पणी करते हुए कहा कि यह संवाद और शांति का अवसर होगा।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

दक्षिणी अरब, सोमवार 10 दिसम्बर 2018 (वाटिकन न्यूज) : संत पापा फ्राँसिस अगले वर्ष संयुक्त अरब अमीरात की प्रेरितिक यात्रा के दौरान 3 से 5 फरवरी तक अबू धाबी में होंगे। अरब प्रायद्वीप का दौरा करने वाले वे पहले परमाध्यक्ष होंगे। यह यात्रा "मानव बंधुता पर अंतरराष्ट्रीय अंतरधार्मिक बैठक" के संदर्भ में हो रही है। यह संयुक्त अरब अमीरात की काथलिक कलीसिया और क्राउन प्रिंस, महाराज शेख मोहम्मद बिन जायद अल नहयान के संयुक्त निमंत्रण का नतीजा है।

मुझे अपनी शांति का एक साधन बना

दक्षिणी अरब (ओमान और यमन) के प्रेरितिक विकर, बिशप पॉल हिंदर ओएफएम कैप ने खुले पत्र में, संत पापा की यात्रा की घोषणा पर टिप्पणी की है।

उन्होंने लिखा, "हम खुले दिल से संत पापा फ्रांसिस का स्वागत करते हैं" और हम असीसी के संत फ्राँसिस के शब्दों में प्रार्थना करते हैं, जिन्हें संत पापा ने अपनी यात्रा के विषय के रूप में चुना है: "मुझे अपनी शांति का साधन बना"।

वार्तालाप का अवसर

अपने पत्र में धर्माध्यक्ष हिंदर ने आशा व्यक्त की है कि संत पापा की यात्रा "मुसलमानों और ख्रीस्तियों के बीच वार्तालाप का एक महत्वपूर्ण कदम होगा और मध्य पूर्व क्षेत्रों में पारस्परिक समझ और शांति बनाने में योगदान देगा"।

धर्माध्यक्ष हिंदर की इच्छा है कि यह यात्रा "हमारे विश्वास को गहरा करने और रोम के धर्माध्यक्ष के प्रति हमारी निष्ठा प्रकट करने का एक पल हो। धर्माध्यक्ष ने प्रार्थना की मांग की है जिससे कि यह ऐतिहासिक घटना उनकी "आध्यामिकता" को मजबूत करे।

संगठन और सहयोग

प्रेरितिक विकर, धर्माध्यक्ष पॉल हिंदर ने संत पापा की यात्रा को संभव बनाने में संयुक्त अरब अमीरात के अधिकारियों को उनकी "उदारता के लिए" धन्यवाद दिया, और 5 फरवरी को संत पापा के साथ समारोही मिस्सा बलिदान चढ़ाने हेतु एक स्थल प्रदान करने के लिए भी सहृदय धन्यवाद दिया।

10 December 2018, 16:45