बेटा संस्करण

Cerca

Vatican News
पूर्वी अस्सीरियाई कलीसिया के प्राधिधर्माध्यक्ष मार जोर्जिस पूर्वी अस्सीरियाई कलीसिया के प्राधिधर्माध्यक्ष मार जोर्जिस  (ANSA)

संत पापा ने अस्सीरियाई प्राधिधर्माध्यक्ष के साथ प्रार्थना की

संत पापा फ्राँसिस ने शुक्रवार 9 नवम्बर को पूर्वी अस्सेरियाई कलीसिया के प्राधिधर्माध्यक्ष मार जोर्जिस तृतीय से मुलाकात की। मुलाकात में उन्होंने मध्यपूर्व में ख्रीस्तियों की पीड़ा के अंत की कामना की तथा काथलिक कलीसिया एवं पूर्वी अस्सीरियाई कलीसिया के बीच ख्रीस्तीय एकता- वर्धक वार्ता के परिणामों पर खुशी व्यक्त की।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी 

मुलाकात में संत पापा ने मध्यपूर्व के ख्रीस्तियों की याद की जो अत्याचार सह रहे हैं तथा उस क्षेत्र में शांति के लिए प्रार्थना की, खासकर, ईराक एवं सीरिया में।

पूर्वी अस्सीरियाई कलीसिया के प्राधिधर्माध्यक्ष से संत पापा ने कहा कि मध्यपूर्व के बहुत सारे ख्रीस्तीय, ख्रीस्त के पदचिन्हों पर चल रहे हैं, जिन्हें हिंसा से बचने के लिए अपनी मातृभूमि छोड़ना पड़ रहा है।

संत पापा ने गौर किया कि ख्रीस्तीय जो अत्याचार सह रहे हैं वे विभिन्न ख्रीस्तीय समुदाय के हैं। वे एक-दूसरे के साथ भाईचारा का संबंध स्थापित करते हैं और इस तरह वे हमारे लिए एकता के साक्षी हैं।

उन्होंने बारी में 7 जुलाई को मध्यपूर्व में शांति हेतु प्रार्थना एवं चिंतन दिवस पर प्राधिधर्माध्यक्ष जोर्जिस की उपस्थिति की याद की।

ईशशास्त्रीय वार्ता के लिए कृतज्ञ

संत पापा ने काथलिक कलीसिया एवं पूर्वी अस्सीरियाई कलीसिया के बीच संबंध पर गौर करते हुए कहा कि ये दोनों कलीसियाओं के लिए ईश्वर को धन्यवाद देने का एक विशेष कारण है और वह कारण है ईशशास्त्रीय संवाद हेतु संयुक्त समिति।

दोनों कलीसियाओं ने 24 नवम्बर 2017 को "संस्कारीय जीवन" पर एक आम वक्तव्य पर हस्ताक्षर किया था, जिसने संस्कार संबंधी धर्मशास्त्र का एक साझा दृष्टिकोण निर्धारित किया।

संत पापा ने कहा कि समिति दिखलाता है कि व्यवहारिक एवं अनुशासनात्मक अंतर हमेशा एकता के बाधक नहीं होते तथा ईशशास्त्रीय अभिव्यक्ति में कुछ अंतरों को तनाव की अपेक्षा पूरक के रूप में देखा जाता है।

समिति कलीसियाई शास्त्र से संबंधित वार्ता के तीसरे चरण पर अपना काम शुरू कर रही है। संत पापा ने तीसरे चरण के अध्ययन के लिए प्रार्थना की कि यह उन्हें एक ही वेदी पर, प्रभु के पवित्र बलिदान को अर्पित करने के लक्ष्य की यात्रा में और एक कदम आगे बढ़ने में मदद करे।

संत पापा एवं प्राधिधर्माध्यक्ष ने ख्रीस्तियों पर अत्याचार की निंदा की

संत पापा फ्राँसिस ने निसिबिस के मेट्रो पोलिटन अबदिशो बार बेरिको के निधन  की 700वीं वर्षगाँठ की याद की, जिन्हें पूर्वी अस्सीरियाई कलीसिया एवं खलदेई काथलिक कलीसिया, सिरो ऑरिएनटल परम्परा के स्तम्भ मानते हैं।

शांति के लिए प्रार्थना

संत पापा फ्राँसिस एवं मार जोर्जिया तृतीया ने मुक्तिदाता की माता प्रार्थनालय में, मध्यपूर्व में शांति तथा ख्रीस्तियों के दुःखों के अंत हेतु प्रार्थना की विशेषकर, ईराक एवं सीरिया में।

10 November 2018, 15:16