बेटा संस्करण

Cerca

Vatican News
रेल दुुर्घटना में मारे गये लोगों के परिजन रेल दुुर्घटना में मारे गये लोगों के परिजन  (AFP or licensors)

रेल दुर्घटना लोगों के प्रति संत पापा की संवेदना

संत पापा ने उत्तरी भारत में रेल दुर्घटना में प्रभावित लोगों के प्रति संवेदना प्रकट की।

दिलीप संजय एक्का-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, सोमवार, 22 अक्तूबर 2018 (रेई) संत पापा फ्रांसिस ने रविवार को अपने देवदूत प्रार्थना के उपराऩ्त उत्तर भारत के पांजब, अमृतसर जिले में दशहरा त्योहार, रावण दहन के दौरान हुई रेल दुर्घटना में मारे गये 60 लोगों के प्रति अपनी गहरी संवेदना अर्पित की।

संत फ्रांसिस के नाम प्रेषित तार संदेश में वाटिकन राज्य के सचिव कार्डिनल पियेत्रो पारोलीन ने कहा कि इस रेल दुर्घटना के बारे में सुन कर संत “अत्यन्त दुःखित” हैं और वे मृतकों और घालयों के प्रति अपनी प्रार्थना का सामीप्य प्रदान करते हैं।

उन्होंने अपने रविवारीय देवदूत प्रार्थना के बाद तीर्थयात्रियों को संबोधन में कहा, “मैं मृतकों और घायलों के परिवारों के ऊपर ईश्वरीय दिव्य आशीष की कामना करता हूँ जिससे वे शांति, साहस और चंगाई प्राप्त कर सकें, साथ ही नागर अधिकारियों और आपातकालीन कार्यों में संलग्न व्यक्ति को निःस्वार्थ कार्य हेतु बल मिले।”

वर्ष की सबसे दुःख घटना

शुक्रवार को दशहरा पर्व के अवसर पर पंजाब के अमृतसार प्रांत में लोगों की भारी भीड़ रावण दहन देखने हेतु उपस्थित थी। विशाल पुतला के दहन होने के पर आग की चिनगारी से बचने के लिए लोग दूर हटे और रेल की पटरी और उसके ईद-गिर्द खड़े हो गये। उसी वक्त रेलगाड़ी बिजली का गति से पटरी पर आई और देखते ही देखते खुशहाली के क्षण मौत और गम में तब्दील हो गया। पलक झपकते ही लोगों के शव क्षत-विक्षत पटरी के चारों ओर बिखरे पड़े थे।

इस दुर्घटना में करीबन 60 से अधिक लोगों के मारे जाने की खबर है जबकि कई  लोग गंभीर रुप से घायल हो गये हैं। भारतीय काथलिक धर्माध्यक्षीय सम्मेलन के अधिकारी, सीबीसीआई से महासचिव धर्माध्यक्ष थेयोदोर मसकारिहन्स ने इस घटना के संबंध में 19 अक्टूबर को एक प्रेस विज्ञाप्ति जारी करते हुए सभी मृतकों और घायलों के प्रति अपनी संवेदना अर्पित की। “ईश्वर मृत जनों को आनंत शांति प्रदान करें। हम उनके शोकाकुल परिवारों और घायलों को अपनी प्रार्थनाओं में याद करते और ईश्वरीय सांत्वना हेतु प्रार्थना करते हैं।”

22 October 2018, 17:12