बेटा संस्करण

Cerca

Vatican News
ग्रीक ऑर्थोडोक्स कलीसिया के धर्मगुरु ग्रीक ऑर्थोडोक्स कलीसिया के धर्मगुरु  (AFP or licensors)

ऑर्थोडोक्स धर्मगुरु ने व्यक्त की ग्रीस के लिए चिंता

ग्रीक ऑर्थोडोक्स कलीसिया के प्रमुख, एथेंस के महाधर्माध्यक्ष हियरोमोस द्वितीय, ने देश की स्थिति के लिए अपनी गहरी चिंता व्यक्त की है, जिसमें विदेशी और घरेलू नीतियां भी शामिल हैं।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

एथेंस, बुधवार 03 अक्टूबर 2018 (वाटिकन न्यूज) :  अपने दुर्लभ सार्वजनिक वक्तव्यों में से एक में, महाधर्माध्यक्ष  हियरोमोस द्वितीय ने एथेंस में धर्माध्यक्षीय धर्मसभा की एक बैठक को बताया कि उन्हें डर था कि ग्रीस राज्य में आर्थिक संकट समाप्त करने के लगभग एक दशक बाद भी देश सिद्धांतहीन है। अपराध में वृद्धि, स्वास्थ्य और न्याय प्रणाली अपंग हो गई है और विदेश नीति में दिशा की कमी है।

महाधर्माध्यक्ष हियरोमोस ने विशेष रूप से पड़ोसी देश मसेदोनिया के राष्ट्रवादी प्रवृत्तियों के खिलाफ चेतावनी दी, जिसके साथ यूनानी सरकार ने पिछले जून में तनाव-विरोधी सौदे पर हस्ताक्षर किए।

महाधर्माध्यक्ष हियरोमोस का कहना है कि कई ग्रीक लोग इस वजह से चिंतित हैं कि नैतिक संकट के भार की वजह से कानून और व्यवस्था टूट रही है।

उनका मानना ​​है कि पूरी राजनीतिक वर्ग या तो अक्षम है, या भ्रष्ट है, या दोनों है।

महाधर्माध्यक्ष हियरोमोस के संदेश का सारांश बहुत स्पष्ट था कि ग्रीक ऑर्थोडोक्स कलीसिया और इसकी शिक्षाएं तेजी से धर्मनिरपेक्ष और संकटग्रस्त समाज में भुलाए जाने के खतरे में हैं।

03 October 2018, 17:15