बेटा संस्करण

Cerca

Vatican News
कार्डिनल ताग्ले के साथ संत पापा फ्राँसिस कार्डिनल ताग्ले के साथ संत पापा फ्राँसिस 

आनन्द के सुसमाचार के मिशनरी बनें, संत पापा

संत पापा फ्राँसिस की ओर से प्रेरितिक राजदूत महाधर्माध्यक्ष गाब्रिएल कच्चा ने मनिला में 18-22 जुलाई तक चल रहे, नवीन सुसमाचार प्रचार पर पाँचवें फिलीपींस सम्मेलन के प्रतिभागियों को एक संदेश प्रेषित किया।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, बृहस्पतिवार, 19 जुलाई 2018 (वाटिकन न्यूज)˸ संत पापा फ्राँसिस ने फिलीपींस के विश्वासियों को निमंत्रण दिया है कि वे आनन्द के सुसमाचार प्रचार हेतु "मिशनरी शिष्य" बनें।

प्रेरितिक राजदूत महाधर्माध्यक्ष गाब्रिएल कच्चा ने संत पापा की ओर से नवीन सुसमाचार प्रचार पर पाँचवीं फिलीपींस सम्मेलन के प्रतिभागियों को संदेश प्रेषित किया जो मनिला के संत थोमस विश्वविद्यालय में आयोजित किया गया है।

सुसमाचार

संदेश को मनिला के महाधर्माध्यक्ष कार्डिनल लुईस अंतोनियो ताग्ले ने बुधवार को सम्मेलन के प्रथन दिन मिस्सा के दौरान पढ़कर सुनाया, जिसमें संत पापा ने फिलीपींस के विश्वासियों को मिशन हेतु दुनिया में जाने तथा सुसमाचार का प्रचार करने का प्रोत्साहन दिया है।

संदेश में कहा गया है कि संत पापा प्रतिभागियों के लिए प्रार्थना करते हैं जिन्हें मिशनरी शिष्य के रूप में चुनौतियों का सामना करना पड़ेगा किन्तु वे अपना दायरा फिलीपींस तक ही सीमित न रखें बल्कि पूरे एशिया महादेश और उससे भी बाहर जाएं।

सम्मेलन की विषयवस्तु है "दया से द्रवित होकर उन्होंने भीड़ को खिलाया।" पाँच दिवसीय सम्मेलन, याजकों एवं समर्पित लोगों के लिए समारोह से भी संबंधित है जिसकी घोषणा फिलीपींस के काथलिक धर्माध्यक्षीय सम्मेलन ने की थी। सम्मेलन में करीब 2000 प्रतिभागी हैं जिनमें अधिकतर पुरोहित एवं धर्मसमाजी हैं।

सुसमाचार का आनन्द

संत पापा के संदेश में कहा गया है कि "यह आज की कलीसिया के लिए अत्यन्त महत्वपूर्ण है कि हम बाहर जाएँ और सभी जगहों पर, हर अवसर में बेहिचक और बिना भय सुसमाचार का प्रचार करें। सुसमाचार का आनन्द सभी लोगों के लिए है। कोई भी इससे वंचित नहीं रह सकता है।" (एवंजेली गौदियुम 23)

प्रार्थना की गयी है कि "हर व्यक्ति प्रभु येसु से प्रेरणा ग्रहण करे, जो अपने शिष्यों से भीड़ को खिलाने का आदेश देकर, करुणावान ईश्वर के चेहरे को प्रकट करते हैं।"

सन् 2012 से ही फिलीपींस के काथलिक धर्माध्यक्षीय सम्मेलन ने फिलीपींस में सुसमाचार के आगमन की 500वीं जयन्ती मनाने की तैयारी का आह्वान किया है जो 2021 में मनाया जाएगा।

19 July 2018, 17:43