Cerca

Vatican News
ऑर्डर ऑफ माल्टा ऑर्डर ऑफ माल्टा  (ANSA)

मानव तस्करी से संघर्ष में संत पापा के साथ ऑर्डर ऑफ माल्डा

मानव तस्करी विश्वभर में फैला एक ऐसा अपराध है जो लोगों को गुलाम बनाकर अपने स्वार्थ के लिए उनका शोषण करता है। 30 जुलाई को मानव तस्करी के खिलाफ विश्व दिवस मनाया जाता है। ऑर्डर ऑफ माल्टा इस जघन्य अपराध को दूर करने के लिए प्रयासरत है।

उषा मनोरमा तिरकी- वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, मंगलवार, 31 जुलाई 2018 (वाटिकन न्यूज़)˸ संत पापा फ्राँसिस मानव तस्करी के जघन्य अपराध को समाप्त हेतु लगातार आह्वान कर रहे हैं। उन्होंने 29 जुलाई को देवदूत प्रार्थना के उपरांत मानव तस्करी के खिलाफ विश्व दिवस की याद दिलाते हुए इसे शर्मनाक अपराध कहा तथा सभी भली इच्छा रखने वाले लोगों से अपील की थी कि वे इस अन्याय का कड़ा विरोध करें। 

मानव तस्करी के उन्मुलन में ऑर्डर ऑफ माल्टा

मानव तस्करी की जाँच और उसका सामना करने के लिए ऑर्डर ऑफ माल्टा के राजदूत मिशेल वीथे ने वाटिकन न्यूज को बतलाया कि ऑर्डर ऑफ माल्डा किस तरह मानव तस्करी को दूर करने के लिए प्रयासरत है। 

मानव तस्करी रोकने के लिए ऑर्डर ऑफ माल्टा के कार्य-

- सभी लोगों को आधुनिक दासता की पहचान करने में सहायता देना।

- मौजूदा सेवाओं के उपयोग द्वारा दासता को रोकने में मदद करना।

- गुलामी से बचाये गये लोगों को जीने के उपाय एवं कुशलता के साथ मदद करना एवं उन्हें पुनः एकीकृत करना। उन्हें तस्करी एवं अनियमित परिस्थितियों से दूर रखने में मदद     देना।

- बचाये गये लोगों के लिए उपचार और समर्थन के लिए बेहतर पहुंच को बढ़ावा देना।

   पोप फ्रांसिस की आवाज को बढ़ावा

ऑर्डर ऑफ माल्टा के राजदूत मिशेल वीथे ने बतलाया कि किस तरह उन्होंने संत पापा के आह्वान को महत्व दिया है। उन्होंने कहा, संत पापा  केवल इसके लिए न केवल चिंतित हैं किन्तु कलीसिया में और पूरे विश्व में उसपर रोक लगाने हेतु लगातार क्रियाशील हैं। 

ऑर्डर ऑफ माल्टा

ऑर्डर ऑफ माल्टा एक धार्मिक एवं लोकधर्मी सार्वजनिक अंतर्राष्ट्रीय कानून की सर्वोच्च संस्था है। इसकी स्थापना 900 सालों पहले कमजोर लोगों की मदद के लिए की गयी थी, जिनमें मानव तस्करी के शिकार लोग भी शामिल हैं।

 

31 July 2018, 17:11