बेटा संस्करण

Cerca

Vatican News
कुचुटा धर्मप्रांत में शरणार्थी कुचुटा धर्मप्रांत में शरणार्थी 

कोलंबियाई और वेनेज़ुएला कलीसिया की एकजुटता

वेनेजुएला के हिंसा और संघर्ष से बचने के लिए कोलंबिया की सीमा पर हजारों लोगों की आर्थिक और आध्यात्मिक सहायता हेतु कोलंबिया और वेनेजुएला की काथलिक कलीसिया मिलकर कदम उठाया।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

वेनेजुएला, शनिवार 28 जुलाई 2018 (वाटिकन न्यूज) : वेनेजुएला में संघर्ष की स्थिति के कारण वहाँ की  मुद्रा स्फीति दिसंबर तक, 1 मिलियन प्रतिशत तक पहुंचने की संभावना में है, देश से लोग अन्य देशों में पलायन कर रहे हैं। कोलंबिया की सीमा पर हजारों लोगों को वेनेजुएला और कोलंबिया की काथलिक कलीसिया मिलकर हर तरह की सेवा प्रदान करने की कोशिश कर रही है।

आईएमएफ ने कहा है कि जर्मनी के पहले विश्व युद्ध और पिछले दशक की शुरुआत में जिम्बाब्वे के बाद देश तुलनात्मक आर्थिक संकट से जूझ रहा है। वेनेजुएला, जहाँ विश्व का सबसे बड़ा तेल भंडार है, पांच सालों से आर्थिक संकट से जूझ रहा है। हजारों लोग भोजन और दवा का भुगतान करने में असमर्थ हैं। अपराध दर में दिन प्रति दिन बढ़ोतरी जारी है, स्थानीय लोगों को रात में घर छोड़ने के लिए डर लगा रहता है।

एकजुटता

एकजुटता और भाईचारे के नवीनतम संकेत में, कोलंबिया के कुचुटा धर्मप्रांत के धर्माध्यक्ष और 17 पुरोहितों ने वेनेजुएला के संत क्रिस्टोबाल धर्मप्रांत के लोगों संग मिलकर "दिव्य करुणा" पारगमन घर में आश्रय लेने वालों की सेवा की। अपनी सेवा द्वारा उन्होंने इस तथ्य को दोहराया कि ख्रीस्तीय भाईचारे और सेवा की कोई सीमा नहीं है।

संत क्रिस्टोबाल के धर्माध्यक्ष ने कुचुटा के धर्माध्यक्ष के प्रति कृतज्ञता व्यक्त करते  हुए प्रार्थना की कि दो धर्मप्रांत मिलकर वेनेजुएला से प्रवासियों के लिए काम करें "ताकि "दिव्य करुणा" पारगमन घर में आश्रय लेने वाले ईश्वर के चमत्कार का अनुभव कर सकें।"

28 July 2018, 15:57